छोटी चिड़िया


मैं स्वतंत्रता का हिमायती
करता हूँ बहुत प्यार
एक छोटी चिड़िया से
पर कैद कर डाला है उसे पिंजड़े में
क्या करूँ?
बेटे की जिद के आगे
झुकना पड़ा है मुझे
और फिर चिड़ियाँ सुरक्षित भी तो है
पिंजड़े में
बाहर न जाने कितने क्रूर पक्षी/बहेलिया
घात लगाये बैठे हों
एक दिन पिंजड़े से टकराकर
टूट गया एक पंख चिड़िया का
स्कूल से उत्साहित होकर लौटा बेटा
डैड! मेरे दोस्त को भी चाहिए ऐसे और पंख
मैंने समझाया उसे चिड़ियाँ को होगा बहुत दर्द
पर वह रोता रहा
दूसरे दिन मैंने देखा खुले पिंजड़े के बाहर
पंख नुची चिड़ियाँ तड़पती हुई
कातर नजरों से देख रही है मुझे
मुझे बेचैन देख पत्नी ने समझाया
बेटे की खुशी की खातिर
लोग बड़े-बड़े त्याग करते है
और मैं एक छोटी चिड़ियाँ के लिए
दुःख मना रहा हूँ
आज या कल तो इसे मरना ही था
पत्नी का तर्क मुझे सही लगा
जाने दो!
कल दूसरी चिड़ियाँ लेकर डाल दूँगा
पिंजड़े में.
Share